Sat. May 18th, 2024

आजकल सर्दियों का मौसम है। इस मौसम गर्म कपड़े पहनना लाजमी है। इन दिनों हम दिन में तो गर्म कपड़े पहनते ही हैं रात में भी गर्म कपड़े पहनकर सो जाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि रात में गर्म कपड़़े पहनकर नहीं सोना चाहिए। जो लोग रात में लगातार गर्म कपड़े पहनकर सोते हैं उन्हें स्कैबीज नामक बीमारी हो जाती है। स्कैबीज एक कीड़ा होता है जिसके काटने से शरीर पर रात में खुजली और लाल दाने पड़ जाते हैं। इसके अलावा आपको कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। आइए जानते हैं गर्म कपड़े पहनकर सोने से हम किन—किन बीमारियों को न्यौता देते है।

एक्जिमा

विशेषज्ञों का कहना है कि जब त्वचा ज्यादा ड्राई होगी तो स्किन में एक्जिमा बढ़ेगा, जिससे खुजली बढ़ेगी। इसलिए रात को गर्म कपड़े पहनकर नहीं सोना चाहिए।

त्वचा संबंधी रोग बढ़ेंगे

जिनकी त्वचा पहले से ही संवेदनशील है उन्हें ज्यादा दिक्कतें होने लगती हैं। गर्म कपड़ों से बॉडी की नमी चली जाती है जिससे त्वचा रोग बढ़ते हैं।


एलर्जी और खुलजी बढ़ेगी

सर्दियों में गर्म कपड़े पहनने से एलर्जी बढ़ेगी और खुजली होगी। अगर आपकी स्किन रूखी है तो ऊन के रूएं भी उससे चिपककर अकड़ जाएंगे और खिंचाव होगा। जिससे त्वचा में रैशिज, चकत्ते या दाने हो जाते हैं।

पैरों में छाले

अक्सर लोग रात को खुद को गर्म करने के लिए गर्म कपड़ों के साथ-साथ मोजे भी पहनकर सो जाते हैं, लेकिन डॉक्टर राका के मुताबिक ऐसा नहीं करना चाहिए। क्योंकि ऊन में थर्मल इन्सुलेशन होता है जो पसीने को अच्छी तरह से सोख नहीं पाता। जिससे बैक्टीरिया पैदा होता है। साथ ही छाले भी पैदा करता है। इसलिए डॉक्टर्स रात को ऊनी मोजे के बजाए कॉटन के मोजे की सलाह देते हैं।

बुजुर्गों को दिक्कत

जिनकी उम्र ज्यादा है उनकी स्किन पहले ही ड्राई होती है। इस मौसम में यह परेशानी ज्यादा हो जाएगी। अगर स्किन को मॉश्चराजेशन नहीं मिलेगा तो यह परेशानियां बढ़ेंगी।

बेचैनी और घबराहट की शिकायत

रात में जब गर्म कपड़े पहनकर सोते हैं तो शरीर में गर्माहट बढ़ती है जिससे बेचैनी और घबराहट की शिकायत होती है। साथ ही लो ब्लड प्रेशर भी होने लगता है।

हार्ट के मरीजों के लिए खतरा

रात में गर्म स्वेटर पहनने और गर्म रजाई ओढ़ने से शरीर की गर्मी लॉक हो जाती है। हार्ट के मरीजों के लिए खतरे का सबब बनती है। इसलिए रात को गर्म कपड़े पहनकर नहीं सोना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *