Sun. May 26th, 2024

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के कई भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसदों से नाश्ते पर मुलाकात की और विभिन्न “गैर-राजनीतिक” मुद्दों पर उनसे चर्चा की। सूत्रों के मुताबिक प्रधानमंत्री ने सांसदों से पार्टी कार्यकर्ताओं एवं राजनीति से इतर लोगों के साथ अधिक से अधिक जुड़ने की सलाह दी। उन्होंने बताया कि बैठक में 36 सांसदों के अलावा भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा और संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने भी शिरकत की। हालांकि चर्चा के केंद्र में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा रहे। वह इस बैठक से नदारद थे।

किसानों को कुचलने का आरोपी है टेनी का बेटा

गौरतलब है कि अजय मिश्रा के पुत्र लखीमपुर खीरी हिंसा मामले का मुख्य आरोपी है और विपक्षी दल इस मुद्दे पर सरकार को घेरने की कोशिशों में लगे हैं। संसद के शीतकालीन सत्र में पिछले कुछ दिनों से विपक्षी दल इस मुद्दे को उठाकर हंगामा कर रहे हैं और मिश्रा के इस्तीफे की मांग कर रहे हैं। सूत्रों ने कहा कि अपने सरकारी आवास पर बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने ज्यादातर ‘‘गैर-राजनीतिक” मुद्दों पर चर्चा की और यह एक अनौपचारिक बैठक थी। सूत्रों ने बताया कि सांसदों ने काशी विश्वनाथ गलियारे के निर्माण के लिए मोदी की सराहना की और गलियारे के निर्माण में जुटे श्रमिकों के साथ प्रधानमंत्री के दोपहर का भोजन करने का विशेष उल्लेख किया।

सांसदों को बेहतर स्वास्थय संस्कृति विकसित करने की सलाह

सांसदों ने कहा कि विशेषकर उत्तर प्रदेश की जनता ने इस कदम को खूब सराहा। आजादी का अमृत महोत्सव का उल्लेख करते हुए मोदी ने सांसदों को अपने संसदीय क्षेत्रों में खेलों की प्रतिस्पर्धा करने और इसके जरिए बेहतर स्वास्थ्य की संस्कृति विकसित करने की सलाह दी। संसद के मौजूदा शीतकालीन सत्र के दौरान भाजपा सांसदों के विभिन्न समूहों के साथ प्रधानमंत्री की यह चौथी मुलाकात थी। वह अब तक पूर्वोत्तर राज्यों, दक्षिणी राज्यों और मध्य प्रदेश के सांसदों से मिल चुके हैं।

विधानसभा चुनाव से पहले अहम है बैठक

आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर देश के सबसे बड़े सूबे के सांसदों की प्रधानमंत्री से मुलाकात को अहम माना जा रहा है। भाजपा इस बार अपना दल (एस) और निषाद पार्टी के साथ गठबंधन में राज्य विधानसभा का चुनाव लड़ रही है। अगले साल की शुरुआत में वहां विधानसभा के चुनाव होने हैं और इसमें जीत हासिल करने के लिए पार्टी ने एड़ी चोटी का जोर लगा दिया है। प्रधानमंत्री पिछले एक महीने में कई बार राज्य का दौरा कर चुके हैं और कई विकास कार्यों का उद्घाटन कर चुके हैं। आने वाले दिनों में उनके और भी कार्यक्रम प्रस्तावित हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा को उत्तर प्रदेश की 403 विधानसभा सीटों में से 312 सीटों पर और सहयोगी दलों को 13 सीटों पर विजय मिली और योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में पूर्ण बहुमत की भाजपा की सरकार बनी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *